Loading...
News Update : NEW STUDY CENTRES INVITED CONTACT 8791149836, 9457393397, 01232-220177      YOGA CERTIFICATION BOARD GOVT OF INDIA MINISTRY OF AYUSH ALERT- ADMISSION OPEN      ADMISSION OPEN ! NSDC(NATIONAL SKILL DEVELOPMENT PROGRAMME) HEALTH SECTOR      ADMISSION OPEN ! NSDC(NATIONAL SKILL DEVELOPMENT PROGRAMME) TELECOM SECTOR      INVITATION TO GET FRANCHISE AS TRAINING CENTRE FROM JEEVAK RASHTRIYA VIDHYAPEETH      HURRY UP ! ADMISSION OPEN- Diploma in Naturopathy and Yogic Science (DNYS) , CMS&ED,DIPLOMA IN ACCUPUNCTURE, DIPLOMA IN ACCUPRESSURE,DIPLOMA IN KSHARSUTRA (DKS)      HURRY UP ! ADMISSION OPEN IN COMPUTER COURSES      HURRY UP ! SKILL COURSES ARE AVAILABLE IN JRVIDHYAPEETH ADMISSION OPEN      HURRY UP ! ADMISSIONS OPEN FOR PARAMEDICAL COURSES, GET YOUR GOVT AND PRIVATE JOBS NOW.     

MEDICAL COURSES

MEDICAL COURSES

 

                                     MEDICAL COURSES 



DIPLOMA IN NATUROPATHY AND YOGIC SCIENCE

 

प्राकृतिक चिकित्सा एवं योग में डिप्लोमा 

 

COMMUNITY MEDICAL SERVICES AND ESSENTIAL DRUGS
 

 

         C.M.S. & E.D  कोर्स पास कर रजिस्टर्ड एलोपथिक डॉक्टर बने !

                   सुप्रीम कोर्ट द्वारा मान्यता प्राप्त 



प्रवेश योग्यता (Eligibility ) : - हाई स्कूल (कक्षा - 10 )पास अथवा BHMS , BAMS , आयुर्वेदाचार्य , आयुर्वेद शास्त्री आयुर्वेद शिरोमणि , आयुर्वेद भाष्कर , वैध विशारद , आयुर्वेद रत्न, ND , DNYS , अलटरनेटिव , इलेक्ट्रो होम्योपैथिक , उपाधिधारी चिकित्सक प्रवेश ले सकते हैं !

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO ) ने सन 1978 में यह घोषणा कि प्रत्येक मनुष्य को अच्छे  स्वास्थ्य लाभ कि कामना (Health  for  all ) ही उसका मुख्य उद्देश्य हैं ! इसी घोषणा को मूर्तरूप देने के उद्देश्य से जीवक राष्ट्रीय विद्यापीठ ने WHO द्वारा अनुमोदित एलोपैथिक औषधियों द्वारा चिकित्सा सेवा करने वाला कोर्स संचालित किया हैं ! जीवक राष्ट्रीय विद्यापीठ फैकल्टी अनुभवों , अप्रशिक्षित चिकित्सको कि सही ज्ञानवर्धन हेतु प्रशिक्षण देती हैं ! प्राथमिक चिकित्सा (First  Aid ) पर सरकार ने आजतक कोई अधिनियम (Act ) एवं शासनादेश (GO ) नहीं बनाया हैं ! अप्रशिक्षित अनुभवी चिकित्सको को 18 माह का कोर्स कराकर कुशल प्राथमिक चिकित्सक बनती हैं ! यह प्रशिक्षित चिकित्सक ग्रामीण क्षेत्र कि जनता को प्राथमिक चिकित्सा सेवाओं उपलब्ध करा रहे हैं ! यह अपनी जिम्मेदारी का दायित्व पूरी लगन के साथ निभा रहे है ! 

 

रजिस्ट्रेशन - CMS व् CMS & ED कोर्स उर्त्तीण करने के बाद स्नातक का रजिस्ट्रेशन : - पैरा मेडिकल जीवक राष्ट्रीय विद्यापीठ से कराया जाता हैं !

मा o सर्वोच्च न्यायलय ने सन 2003 में अपने निर्णय में CMS डिप्लोमाधिकारियो को एलोपेथी औषिधियो से चिकित्सा सेवा करने तथा अपने रोगियों को स्वस्थ मेडिकल सर्टिफिकेट देने और सामान्य बीमारियों की चिकित्सा करने हेतु प्राइमरी हेल्थ वर्कर या बेसिक चिकित्सा के रूप में मनाया जाता हैं ! कोई भी CMO ( मुख्य चिकित्साधिकारी ) अपने यहां चिकित्सा व्यवसाय हेतु CMS & ED का रजिस्ट्रेशन नहीं करता हैं और न रोकता हैं ! मा o सर्वोच्च न्यायलय का आदेश सम्पूर्ण भारत में लागू होता हैं ! अतः सभी को मा o सर्वोच्च न्यायलय के आदेश का पालन करना चाहिए ! आदेश का पालन न करने वाले अधिकारी / कर्मचारी के विरुद्ध अवमानना ( Contempt of Court ) की स्थिति उत्पन्न हो सकती हैं ! 
स्वास्थ्य मंत्रालय भारत सरकार , मेडिकल कॉउन्सिल ऑफ़ इंडिया , डेण्टल कॉउन्सिल , नर्सिंग कॉउन्सिल व् विश्व विद्यालय अनुदान आयोग ( UGC ) आदि के परिधि के बाहर आदेश , मा o सर्वोच्च न्यायलय के फैसले की प्रति एवं 350 पेटेंट एलोपैथिक औषिधियो की सूचीतथा CMO के अनेक पत्र 500 रुपया कार्यालय भेज कर मंगाये या प्राप्त करे !

CMS & ED कोर्स में दिए जाने वाले प्रैक्टिकल की जानकारी 

 1 . इंजेक्शन लगाने का ज्ञान दिया जाता हैं तथा ब्लडप्रेशर मापक यन्त्र ब्लडप्रेशर मापने का ज्ञान कराया जाता हैं !

2 . स्टेथस्कोप (आला ) प्रयोग करने का ज्ञान दिया जाता हैं तथा नार्मल सेलाइन (ग्लूकोज़ ) चढ़ाने का ज्ञान कराया जाता हैं !
3 . नाड़ी देखने का ज्ञान कराया जाता हैं तथा पैथलॉजी लेब का थ्योरी एवं प्रैक्टिकल का ज्ञान कराया जाता हैं ! 
4 . प्रत्येक रोग का कारण , लक्षण , निदान एवं चिकित्सा का ज्ञान कराया जाता हैं तथा सभी मेडिकल स्टूमेंट की जानकारी दी जाती हैं !
5 . मानव शरीर की रचना एवं क्रिया तथा हड्डियों का ज्ञान कराया जाता हैं !
6 . समाज में फैले हुए विभिन्न रोगो के विषय में प्रशिक्षण जैसे - एड्स , कैंसर ,हेपेटाईटिस बी , मधुमेह , ह्रदय रोग , रक्त चाप , एवं बच्चो के सभी प्रकार के रोगो का निदान कराया जाता हैं !
7 . महिलाओ के रोग जैसे - मासिक धर्म, गर्भाशय आदि एवं आंख , नाक, कान,गला , जीभ , आदि की जानकारी करायी जाती हैं !
8 . दुर्घटना का प्राथमिक उपचार जैसे - मरहम पट्टी , रक्त स्राव रोकना , साधारण स्टेचिंग आदि की जानकारी करायी जाती हैं !         

      

                                         Important Directive

  1. Essential Drugs (Primary Level) 350 Drugs have been selected by the countries South East Asia Region on the basis of the proven quality, efficacy, safety, availability and low cost W.H.O. have now released the list of Essential Drugs to be used by Primary Health Workers.
  2. The list of 350 Essential Drugs Primary (Ed.) to be used by the practitioner. Under the ever the names of some Ed Drugs are as Under.

 

 Golden Chance Self – Employment Course

Become Registered Allopathic Doctor

Community Medical Service (C.M.S.) – One Year Course

Community Medical Service & Essential Drugs (C.M.S. &.E.D.) – 18 Month Course

Eligibility: - High School Examinations or Equivalent of any Indian University or Board & BAMS, BUMS, BHMS, Ayurvedacharya, Ayurved Shastri , Ayurved Shiromani , ayurved Bhaskar, vadya Visharad, Ayurved Ratan , ND DNYS etc. Pass.

HEALTH FOR ALL by through the Alma atta declaration signed by all members countries, the WHO has given call “Health for all by 2000 AD. To full fill this AM of W.H.O. Jeevak Rashtriya Vidhyapeeth has started such.

Course Named Community Medical Service (C.M.S.) and Community Medical Service & Essential Drugs (C.M.S. & E.D.) Course to Train Rural Doctor’s, Practioners of all system & Health Worker & Others Supported by Unique and W.H.O. is (Geneva, Switzerland) Guidelines.

After completing the Community Medical Service (C.M.S.) Community Medical Service & Essential Drugs (C.M.S. & E.D.) Course the candidate will be eligible for admission to Essential Drugs training. After which they will be authorized to use 350 essential drugs approved by W.H.O.

After passing C.M.S. Course candidates will undergo six months weakened essential drugs (ED) training. After successful completion of essential drug training examination, they will use essential allopathic medicines authorized by W.H.O. (World Health Organization).                                   

                                              Important Directive

  1. Essential Drugs (Primary Level) 350 Drugs have been selected by the countries South East Asia Region on the basis of the proven quality, efficacy, safety, availability and low cost W.H.O. have now released the list of Essential Drugs to be used by Primary Health Workers.
  2. The list of 350 Essential Drugs Primary (ED.) to be used by the practitioner. Under the ever the names of some Ed Drugs are as under.

 

 

                               MEDICAL COURSES WITH FEES STRUCTURE